ALL संपादकीय पुस्तक कहानी कविताएँ ग़ज़लें लघुकथा लेख पत्रांश साहित्य नंदनी बिरासत
अभिनव इमरोज आवरण पृष्ठ 1
June 30, 2020 • देवेंद्र कुमार बहल • संपादकीय

जब कोयल लगे कुहुकने

और अंबुआ पे पड़े बौर

तितलियों संग मचल-मचल

भंवरा भी कहे 

लो आ गई बहार।